Sunday, February 26, 2012

भड़की हुई श्रीमती जी का "सन्डे प्रवचन"















काहे चिंता कर रहे ओ जी सन्डे लाल

इस सन्डे बनवा लिया दाढ़ी और बाल,
अगले सन्डे ले जाना बच्चों को तुम पिक्चर
वर्ना उलटे हो जायेंगे मंगल - राहू - शनिश्चर....

मंगल - राहू - शनिश्चर, पापी ग्रह सारे
मिलकर सिर के बाल साफ़ कर देंगे सारे,
ऊपर से फिर कई दिनों से पेन्डिंग है मेरा मेकअप
अगले सन्डे ब्यूटी पार्लर में चलो करवाओ चेकअप.....

चलो करवाओ चेकअप हमारी भी कोई इज्ज़त है 
पूरे मोहल्ले में सबसे फूटी हमारी ही किस्मत है,
ना पिकनिक को जाना ना होटल में खाना 
जब देखो तब फेसबुकी दोस्तों से गप्प लड़ाना....

गप्प लड़ाना और मगन रहना कविताबाजी में
मोबाइल पर बिजी हमेशा रहते हाँ जी - ना जी में,
हफ्ते के ६ दिन करते ऑफिस में गधा - मजूरी
क्यों सन्डे को नानी मरती यहाँ करने में जी हुजूरी....

- VISHAAL CHARCHCHIT

3 comments:

vidya said...

:-)

हमने भी सुना दिया यही का यही..
देखें कुछ जूँ रेंगी कि नहीं...

प्रवीण पाण्डेय said...

सण्डे को मौन व्रत रख लीजिये..

Archana said...

:-) :-)

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...